LEARN FROM THE ACHIEVER : जानिए यूपीएससी एग्जाम को फर्स्ट अटेम्प में क्लियर करने वाले अभिनय से सक्सेस टिप्स

हमारा शहर प्रतिभा और जूनून का धनी है। यहाँ हर फील्ड के धुरंदर के रहते है। आज हम आपके लिए लाये है एक ऐसे ही टैलेंट को। जिसमे अपने ज़ज़्बे और मेहनत से वो कर दिखाया जो बहुत कम लोग ही कर पाते है। हम बात कर रहे है अभिनय विश्वकर्मा की, जिन्होंने फर्स्ट अटेम्प में सबसे कठिन परीक्षाओ में से एक यूपीएससी को क्लियर किया। मात्र 23 साल की उम्र में इन्होने इस परीक्षा में 196 रैंक हासिल की । अभिनय ने orsunao.com के साथ खास बातचीत में टिप्स शेयर किये। तो चलिए लर्न फ्रॉम द अचीवर।

यूपीएससी ही क्यों ????

कॉलेज के समय में ही जब अपने बैचमेट्स या किसी को यूपीएससी की तैयारी करते देखता था तो बहुत इंट्रस्ट आता था। फिर मैंने जॉब भी की तब मैंने कुछ बुक्स पढ़ी जिससे मेरा कॉन्फिडेंस बड़ा कि मैं ये कर सकता हूँ। फिर इसी रास्ते पर चल दिए।

फर्स्ट एटेम्पट में एग्जाम क्लियर करने के लिए क्या स्टेटर्जी अपनायी ?

सबसे पहले बेसिक बुक्स को पढ़ कर अपनी फाउंडेशन को स्ट्रॉन्ग किया। सिलेबस को अच्छे से समझा। और अपनी नॉलेज को करंट अफेयर्स के साथ जोड़ा। इससे काफी फायदा हुआ। बेस स्ट्रांग होना बहुत ज़रूरी है। वो एक नीव कि तरह होता है।

खुद को स्ट्रेस फ्री रखने के लिए क्या करते थे?

ये एग्जाम बहुत डिफिकल्ट है तो कई बार स्ट्रेस फील होने लगता है। ऐसे में मैडिटेशन ने बहुत हेल्प की। मेरे टीचर्स ने ही मैडिटेशन का सहारा लेने को कहा। ये सच में काफी असरदार रहा है। इसकी डेली प्रैक्टिस से मेन्टल स्टेबिलिटी आती है, जो बहुत ज़रूरी है।

सोशल मीडिया के साथ पढाई की या उससे दुरी बनाई ?

फेसबुक, व्हाट्सप्प जैसी साइट्स से तो दुरी बना ली थी। पर यूट्यूब का पढाई का यूज़ किया। यूट्यूब पर कई ऐसे चैनल है जो काफी हेल्पफुल है। करंट अफेयर्स से भी रिलेटेड अच्छे चैनल्स है,तो इनसे पढाई की।

गवर्मेंट जॉब में आने के बाद क्या करना चाहते है?

मैं पॉलिसीस को फैथ्फुली एक्सेक्यूट करना चाहता हूँ। अपने देश को डेमोक्रेटिक बनाना है और उसके लिए अपनी तरफ से हर संभव प्रयास करूँगा।

आपकी इंस्पिरेशन कौन है?

मेरी इंस्पिरेशन पुलिस वर्ल्ड और कई टीवी सीरीज है। मुझे क्राइम इन्वेस्टीगेशन में रूचि थी,इसलिए पहली प्रिफरेंस आईपीएस को दी।

जो स्टूडेंट्स यूपीएससी की तैयारी कर रहे है,उनके लिए कुछ टिप्स?

सबसे पहले यही कहना अपने फंडामेंटल क्लियर रखे। एग्जामिनर और इंटरव्यूअर आपसे यही आशा रखते है की आपके पास अच्छी नॉलेज हो, इसलिए ज़रूरी है फंडामेंटल क्लियर रखे। इसके साथ मेन्टल स्टेबिलिटी बहुत ज़रूरी है। उसके लिए मैडिटेशन को अपनी रुटीन में शामिल करे। डेडलाइन से डरे नहीं बस खुद पर पूरा कॉन्फिडेंस रखे। साथ ही साथ करंट अफेयर्स से अपडेट रहे।

429 total views, 2 views today

You May Also Like