एक तरफ शहर और एक तरफ प्यार की जबरदस्त कहानी है “शहर या तुम “

हम सभी की लाइफ में कभी कभी न ऐसा दौर ज़रूर आता है जब हमे चुनाव करना होता है। ये चुनाव तब और मुश्किल हो जाता है जब आपको जिन में से चुनना हो वो दोनों ही आपके लिए बेहद खास हो। कुछ ऐसी ही है कहानी शार्ट फिल्म शहर या तुम की। बात करे कहानी की तो ये कहानी है एक आम से लड़के की जो कुछ साल पहले मुंबई आया और यहाँ उसे एक लड़की से प्यार हुआ। शुरुवाती दौर तो बहुत अच्छा था लेकिन बाद में लड़की उस शहर को छोडना चाहती है ऐसे में तो लड़के के सामने दो ऑप्शन रखती है शहर या तुम।

कविता के अंदाज़ में है पेश ज़ज़्बात

इस कहानी का जो हीरो है वो एक कवि है खास बात ये है की हीरो का किरदार याह्या बूटवाला ने निभाया है जो रियल लाइफ में बेहतरीन कवि और स्टोरीटेलर है। ऐसे में ज़ज़्बातो को जिस तरह शब्दों में पिरोया गया है यकीनन आपको भी ये शब्द मोहित कर देंगे।

खास बाते

इस फिल्म की खास बातो की बात करे तो सामान्य कहानी को सामान्य तौर पर ही दिखाया गया है जिसके कारण आप आसानी से इस कहानी से जुड़ाव महसूस कर सकते है। कंटेंट बहुत बेहतरीन है। याह्या का अंदाज़ काबिले तारीफ है। हमारी तरफ से इस फिल्म को हम 5 में से 4 स्टार देते है।

कास्ट: याहया बूटवाला और जिदान सुजाता।

निर्देशक: करण असनानी

भाषा: हिंदी।

शैली: रोमांटिक ड्रामा।

674 total views, 1 views today

You May Also Like