Jabalpur : विज्ञान दिवस के अवसर पर रादुविवि के विज्ञान भवन में हुआ सरस्वती पूजन एवं विविध कार्यक्रम

विश्वविद्यालय व्यवसायिक अध्ययन एवं कौशल विकास संस्थान, विज्ञान भवन , रा.दु.वि.वि. द्वारा विज्ञान दिवस के अवसर सी.बी.सी.एस. के तहत संचालित विश्वविद्यालय शिक्षण संस्थानों के सभी विभागों के छात्र-छात्राओं एवं बी.वोक के छात्र-छात्राओं द्वारा मिलकर डाॅ सी.वी. रमन को याद किया गया। जिसमें विद्यार्थियों कें द्वारा माता सरस्वती का पूजन एवं डाॅ सी.वी. रमन की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। कौशल विकास संस्थान में छात्र-छात्राओं हेतु आधुनिक परिप्रेक्ष्य में श्वैज्ञानिक तकनीकि से कौशल विकास विषय पर विद्वानों द्वारा व्याख्यान दिये गये एवं छात्र-छात्राओं में श्विज्ञान के समाज में सकारात्मक एवं नकारात्म प्रभाव विषय एवं कौषल विकास विषय पर डिबेट एवं ग्रुपडिस्कशन एवं क्विज काॅम्पटीशन आयोजित किया गया। इस अवसर पर संस्थान के अतिथि विद्वान डाॅ अजय मिश्रा, ने कहा कि विज्ञान बिना जीवन अधूरा है विज्ञान अब जीवन की आवश्यकता बन गई है, विज्ञान से ही लोगों की दिनचर्या सुगम एवं सुलभ हो गई है। डाॅ मीनल दुबे, वीरेंद्र खटीक, सविता पठारिया, प्रवीण जायसवाल, सुनील कुमार,कशिश पारवानी, ओशिन वीजलबाल, आयुषी गोस्वामी , सोनम कोल, वंदना शर्मा दुर्गा मार्काे, तान्वी, शिवानी गुप्ता, आशना कोल,सुधा सोनल ताम्रकार, शिवानी ताम्रकार, मानसी खत्री, सौरभ चोैधरी, विषेक द्विवेदी,नीरज रजक आदि छात्र छात्राएं उपस्थित थे।

पावर प्वाइंट प्रेजेंन्टेशन से होगा आंतरिक मूल्यांकन

विश्वविद्यालय शिक्षण संस्थानों के सभी विभागों की कौशल विकास की कक्षाओं के आंतरिक मूल्यांकन – सी.सी.ई. की परीक्षाओं के प्रारूप में सकारात्मक परिवर्तन करते हुए विद्यार्थियों से लिये जाने वाले पेपर असाइन्मेंट के स्थान पर पावर प्वाइंट प्रेजेंन्टेशन पी.पी.टी. सब्मिशन एवं प्रेजेंन्टेशन कराया जायेगा, पी.पी.टी. बनाना भी सिखाया जा रहा है। छात्र-छात्राओं में स्मार्ट क्लास की जागरूकता के साथ तकनीकि कौशल का विकास होगा एवं मूल्यांकन व्यवस्था को पेपर लेस किया जा सकेगा। जिससे छात्र-छात्राओं एवं शिक्षण संस्थानों में पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूकता का संदेश फैलेगा एवं समय की बचत के साथ ही प्रस्तुतीकरण की नवीन तकनीकि के प्रति छात्र-छात्राओं की झिझक कम होगी। कौशल विकास संस्थान द्वारा छात्र छात्राओं को बैसिक कम्प्यूटर का ज्ञान देने हेतु आज विज्ञान दिवस के अवसर पर पेपर असाइन्मेंट की जगह पावर प्वाइंट प्रेजेंन्टेशन से आंतरिक परीक्षा मूल्यांकन कराने का निर्णय लिया गया

601 total views, 3 views today

You May Also Like