दिल छू लेने वाली कहानी है केदारनाथ,4 कारण की क्यों देखे केदारनाथ

जून 2013 की त्रासदी पर आधारित है फ़िल्म केदारनाथ आज तमाम विवादों के बाद भी रिलीज हो गयी। ये कहानी दिल को छू कर जाती है। 116 मिनट की इस फ़िल्म मे ड्रामा भी है और कॉमेडी भी और इमोशन्स भी। कुल मिलाकर ये एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है आपके वीकेंड के लिये। हम लाये है केदारनाथ देखने के 4 कारण।

  1. एक्टिंग – फ़िल्म में लीड शुशांत सिंह राजपूत निभा रहे हैं और उनकी एक्टिंग की बात करना मतलब सूरज को दिया दिखाना । लेकिन इस फ़िल्म से डेब्यू कर रही सारा अली खान ने भी अपनी एक्टिंग के जलवे बिखेरे है। सारा काफी कॉन्फिडेंट लगी है।
  2. सच्चे दृश्य – फ़िल्म में दिखाए बाढ़ के दृश्य वास्तविक है। ये काफी मार्मिक है। केदारनाथ त्रासदी का वर्णन अच्छे से किया गया है।
  3. सिनेमेटोग्राफी – फ़िल्म की सिनेमेटोग्राफी बेहद अच्छी है। ये फ़िल्म पर चार चांद लगा देती है।
  4. लव स्टोरी – पंडित और मुसलमान के इश्क़ को भी बखुबी दिखाया जाता है। फ़िल्म में दिखाया है कि कुछ लोग मुसलमानों को केदार नाथ का हिस्सा नही मानते पर केदारनाथ उनका भी है। समाज को संदेश देती इस फिल्म का अंत दर्शकों को दुखी करता है। तो ये कहा जा सकता है आप इस फ़िल्म को देख सकते है। 

625 total views, 1 views today

You May Also Like