जबलपुर: रादुविवि में हिन्दी विभाग में त्रि-दिवसीय हिन्दी दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ

राष्ट्र के सौंदर्य का प्रतीक हिन्दी है। हिन्दी का प्रभाव अंतःकरण से होता है इसलिए इसका वास हृदय में होता है। भारतवासियों के लिए हिन्दी माँ तरह है और सदैव माँ का स्थान सर्वोच्च होता है।  उपरोक्त उद्गार  कुलपति प्रो. कपिल देव मिश्र ने  हिन्दी विभाग के भारतेन्दु सभागार में आयोजित त्रिदिवसीय ‘हिन्दी दिवस कार्यक्रम’ के शुभारंभ अवसर पर कार्यक्रम अध्यक्ष के रूप में व्यक्त किए।कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथियों में कुलसचिव डाॅ. बी. भारती,  प्रो. भरत तिवारी ,एवं कला संकायाध्यक्ष एवं मुख्य वक्ता संस्कृत विभागाध्यक्ष प्रो. कमलनयन शुक्ल , हिन्दी विभागाध्यक्ष डाॅ. धीरेन्द्र पाठक शामिल रहे।विष्य प्रवर्तक के रूप में विभागाध्यक्ष डाॅ. धीरेन्द्र पाठक ने बताया कि 12 सितम्बर को स्नातकोत्तर एवं शोधार्थीयों के लिए निबंध लेखन प्रतियोगिता का आयोजन “वैष्वीकरण में हिन्दी के उत्थान के प्रयोक्ता की भूमिका” विषय पर होगा, स्नातक स्तर के विद्यार्थियों के लिए रुचि के विषय रहेंगे। 13 सितम्बर को “वर्तमान परिप्रेक्ष्य में हिन्दी की स्थिति” पर भाषण प्रतियोगिता का आयोजन 11.30 से 12.30 बजे तक होगा। 14 सितम्बर को पुरस्कार वितरण एवं समापन समारोह का आयोजन प्रातः 11.30 बजे से होगा।

गंगा के समान पवित्र और विशाल है हिन्दी-

कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में संस्कृत विभागाध्यक्ष प्रो. कमलनयन शुक्ल ने कहा कि हिन्दी गंगा के समान पवित्र और विशाल हृदय वाली है। वर्तमान समय में इसने कई भाषा के शब्दों को अपने में समाहित कर लिया है यही कारण है कि हिन्दी आज हम सबकी मातृभाषा है। डाॅ. बी. भारती ने कहा कि हिन्दी हमारे संस्कार और व्यक्तित्व को प्रदर्शित करती है यह हमारा जीवन है, हम जिस प्रकार अपनी भावनाओं का उत्कृष्ट प्रदर्शन हिन्दी के माध्यम से कर सकते हैं किसी अन्य भाषा में वह सहजता और सरलता देखने नहीं मिलती।  संकायाध्यक्ष प्रो. भरत तिवारी ने  कहा कि आज सभी को हिन्दी भाषा के उत्थान के लिए बढ़चढ़कर प्रयास करने चाहिए।  कार्यक्रम का संचालन हिन्दी विभाग अतिथि विद्वान डाॅ. आशारानी एवं आभार प्रदर्शन अतिथि विद्वान डाॅ. स्वाति मिश्रा द्वारा किया गया। इस अवसर पर प्रो. बी.के साहू, प्रो. राजीव दुबे, डाॅ. लोकेश श्रीवास्तव , डाॅ. ए.के. गिल, डाॅ. रीझन झारिया,  डाॅ. राजाराम,  दीपक कुमार, उमाकांत, , सुनिता आर्या, राधा दुबे सहित अन्य उपस्थित रहे।

265 total views, 2 views today

You May Also Like