MP News : तमाम सुविधाएं होने के बावजूद नहीं हो पा रहा इलाज

मंडला जिला अस्पताल  लाचार परिस्थितियों में है। तमाम सुविधाएं होने के बावजूद दूर-दराज से आने वाले मरीज यहां से निराश लौटने को मजबूर है। तीन सौ बिस्तर वाला यह जिला अस्पताल डॉक्टर्स की कमी से जूझ रहा है। यहां विशेषज्ञ और मेंडिकल अधिकारी के पद खाली पड़े हैं, जिससे ओपीडी और इमरजेंसी जैसी महत्वपूर्ण सेवाएं प्रभावित हो रही है। अस्पताल में त्वचा रोग, मनो रोग, ईएनटी जैसी कई गंभीर बिमारियों के विशेषज्ञ चिकित्सकों के पद कई दिनों से खाली पड़े हैं। जो विशेषज्ञ डॉक्टर अस्पताल में हैं उन्हें भी जिला अस्पताल के सरकारी कार्यों की जिम्मेदारी दी गई है, जिससे मरीजों को ज्यादा वक्त दे पाना संभव नहीं हो पा रहा। बरसाती और मौसमी बिमारियों के चलते अस्पताल में दिनों-दिन मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है, लेकिन इसकी तुलना में चिकित्सकों की संख्या में लगातार गिरावट आ रही है

80 फीसदी विशेषज्ञ चिकित्सकों की कमी

आदिवासी बाहुल्य जिले में डॉक्टर्स नहीं होने के कारण मरीजों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। मंडला से केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री भी रहे हैं, लेकिन चिकित्सकों की कमी कभी पूरी नहीं हो पाई। पूरे मामले को लेकर सीएमएचओ श्रीनाथ सिंह ने बताया कि जिले में 80 फीसदी विशेषज्ञ चिकित्सकों और 50 फीसदी से ज्यादा मेडिकल अधिकारियों की कमी है, लेकिन यहां कोई भी डॉक्टर आना नहीं चाहता।

215 total views, 1 views today

You May Also Like