प्रधानमंत्री ने पोस्ट पेमेंट बैंक का उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (आईपीपीबी) का शुभारंभ किया। पोस्ट बैंक में बचत खाता, चालू खाता के साथ मनी ट्रांसफर, बिल पेमेंट, एटीएम जैसी सुविधा भी मिलेगी।पोस्ट पेमेंट बैंक के जरिए सरकार की कोशिश गांव-गांव तक बैंकिंग सेवा को मजबूत करने की है। इसी के साथ ही आज से देश की 650 शाखाओं में एक साथ काम शुरू हो जाएगा।

देश के हर वर्ग तक पहुंचेगा बैंक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पोस्ट पेमेंट बैंक के उद्धाटन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज 1 सितंबर का दिन बैंक और बैंकिंग सुविधा के इतिहास में ऐतिहासिक रहेगा। इंडिया पोस्ट पैमेंट बैंक देश की अर्थव्यवस्था में और सामाजिक व्यवस्था में बड़ा परिवर्तन लाने वाला है। इस बैंक के माध्यम से देश के हर गरीब तक, देश के कोने-कोने तक, दूर-दराज़ के पहाड़ों पर बसे लोगों तक, घने जंगलों के बीच रह रहे आदिवासियों तक, एक-एक भारतीय के दरवाजे पर बैंक और बैंकिंग सुविधा का मार्ग खुल रहा है।

घर पर मिलेगी बैंकिंग की सुविधा

पोस्टल डिपार्टमेंट देश भर में फैले अपने 3 लाख डाक सेवकों और डाकियों के नेटवर्क के जरिए इसकी शुरुआत करेगी। पोस्ट ऑफिस पैसे जमा करने और निकालने के लिए इन सभी डाक सेवकों को एक पीओएस मशीन मुहैया कराएंगे। इन मशीनों के जरिए डाक सेवक आपके घर पर ही आपको बैंकिंग की सुविधा देगा। यह देश का पहला ऐसा बड़ा बैंक होगा, जो लोगों तक डोर स्टेप बैंकिंग की सर्विस मुहैया कराएगा। बता दें कि इंडिया पोस्ट पैमेंट बैंक सेविंग अकाउंट पर 5.5 फीसदी ब्याज मुहैया कराएगा।

खुलेंगे तीन तरह के सेविंग्स अकाउंट

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक आपको तीन तरह के सेविंग अकाउंट खोलने की सुविधा देगा। रेगुलर सेविंग अकाउंट, डिजिटल सेविंग अकाउंट और बेसिक सेविंग अकाउंट। ये तीनों अकाउंट जीरो बैलेंस पर खोले जा सकते हैं। खाता खुलने के बाद आप पैसा जमा व निकासी कर सकते हैं। इन सभी के लिए सालाना ब्‍याज दर 4 फीसदी रहेगी। खाता खोलने के लिए केवल आधार कार्ड अनिवार्य होगा। आधार कार्ड के जरिए ग्राहक एक मिनट के अंदर अपना खाता खोल सकेगा। ग्राहक को क्यूआर कोड वाला कार्ड दिया जाएगा और ट्रांजेक्शन कार्ड के साथ ग्राहक के बायोमीट्रिक ऑथेंटिकेशन से पूरा होगा।

 

 

152 total views, 2 views today

You May Also Like