बाबू मोशाय जिंदगी बड़ी होनी चाहिए लंबी नहीं

18 जुलाई 2012 एक ऐसा दिन जिस दिन बॉलीवुड ने अपना सितारा खो दिया। एक ऐसे सुपर स्टार जिनके डाॅयलाग आज भी याद किये जाते है। जी हां हम बात कर रहे है राजेश खन्ना की। आनंद, सफर, अगर तुम ना होते, अमरप्रेम जैसी अनगिनत सुपरहिट फिल्में जो आज भी सभी के जहन में है। आइए जानते है उनके कुछ खास डायलाॅग
– बाबू मोशाय जिंदगी बड़ी होनी चाहिए लंबी नहीं

– मैंने तुमसे कितनी बार कहा पुष्पा मुझे ये आंसू नहीं देखे जाते। आई हेट टियर्स

– मैं मरने से पहले मरने नहीं चाहता

– किसी बड़ी ख़ुशी के इंतज़ार मे हम ये छोटे.छोटे खुशियों के मौके खो देते है।

– बाबू मोशाय जिंदगी और मौत ऊपर वाले के हाथ है, उसे तो न आप बदल सकते है ना तो मैं,हम सब रंगमंच की कठपुतलियां है जिनकी डोर ऊपर वाले की उँगलियों में बंधी है।

– लोग ज़िन्दगी का सबसे छोटा सबसे कीमती लब्ज़ भूल गए है प्यार!!!

टाइम हो गया, पैक अप
राजेश खन्ना ने आखिरी सांस लेते हुए अपने करीबी से यही कहा कि टाइम हो गया, पैक अप। साथ ही राजेश खन्ना ने  अपने फैन्स के लिए एक संदेश भी रिकार्ड किया था जो उनके चौथे में सुनाया गया था। आप भी सुनिए https://www.youtube.com/watch?v=CoOnWoS-Wow

737 total views, 1 views today

You May Also Like