सपनो और रिश्तों के बीच बुनी हैं फन्ने खां

ऐश्वर्या ने फिल्मों में काफी समय बाद वापसी की फन्ने खां के साथ। इसमें उनके साथ अनिल कपूर और राजकुमार राव भी नज़र आ रहे हैं। ये फ़िल्म दिखाती हैं कि पेरेंट्स बच्चों के लिए क्या क्या करते हैं।

कहानी –

ये कहानी हैं  प्रशांत शर्मा यानी अनिल कपूर की। जिन्हें उनके दोस्त फन्ने खां कहते है। वो सिंगर बनना चाहता है। जिसके लिए वो कोशिश भी बहुत करता है लेकिन तकदीर उसका साथ नही देती और वो सिंगर नही बन पाते। अपनी सारी उम्मीदे वो अपनी बेटी से लगा लेता है। उसकी बेटी अच्छा गाने के साथ अच्छा डांस भी करती हैं पर उसकी प्लस साइज होने के कारण उसका हर जगह मज़ाक ही बनता हैं। ऐसे समय में अनिल की फैक्ट्री भी बंद हो जाती हैं तब घर चलाने और उस सपने को पूरा करने के लिए वो मशहूर सिंगर ऐश्वर्या को किडनैप कर लेता हैं जिसमे उसकी हेल्प करता हैं उसका दोस्त राजकुमार राव। तो क्या अनिल का ये सपना पूरा होगा? क्या ऐश्वर्या उसकी हेल्प करेगी? ये जानने के लिए आपको फ़िल्म देखनी होगी।

अभिनय –

अभिनय की बात करे तो अनिल कपूर ने अच्छा अभिनय किया है। ऐश्वर्या का काम भी ठीक ठाक हैं। राजकुमार का कैरेक्टर का मतलब ही समझ नही आता लेकिन राजकुमार का अभिनय ठीक है।

समीक्षा-

फ़िल्म की बात करे तो सेकंड हाफ कहानी से भटक जाती हैं। सेकंड हाफ काफी लंबा लगता हैं। साउंड ट्रैक भी ठीक ही हैं। ऐसे में अगर आप ड्रामैटिक फ़िल्म पसंद करते तो इस फ़िल्म को एक बार देख सकते है।

फ़िल्म – फन्ने खां

निर्देशक – अतुल माँझेकर

स्टार कास्ट – अनिल कपूर, ऐश्वर्या राय बच्चन, राजकुमार राव, करन सिंह छाबरा, दिव्या दत्ता

ड्यूरेशन – 2 घन्टे 9 मिनट

794 total views, 1 views today

You May Also Like